उद्योगों पर पावर कट का विरोध

 


भीलवाडा । मेवाड़ चैम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री ने ऊर्जा मंत्री भंवर सिंह भाटी एवं प्रमुख शासन सचिव, ऊर्जा विभाग भास्कर ए सावंत को प्रतिवेदन भेजकर राज्य सरकार की ओर से 125 केवीए से अधिक उपभोग वाले उद्योगों पर सायं 5 से 8 बजे के मध्य 50 प्रतिशत पावर कट का विरोध किया। चेम्बर ने सायं 5 से 8 बजे के मध्य उद्योगों को 75 प्रतिशत पावर उपयोग की अनुमति देने एवं इस दौरान पावर ग्रिड या अन्य स्त्रोत से पावर खरीदने पर ट्रांसमिशन एवं व्हीलिंग चार्ज वसूल नहीं करने की मांग की।
मेवाड़ चैम्बर ऑफ कॉमर्स एण्ड इण्डस्ट्री के मानद महासचिव आर के जैन ने बताया कि भीलवाडा के टेक्सटाइल उद्योगों में मशीने एक से दूसरे क्रमों से लगी होती है एवं एक विभाग की मशीनों से उत्पादित दूसरे विभाग की मशीनों में फीड होता है, ऐसे में विभागों के मध्य कहीं भी उत्पाद को एकत्रित नहीं किया जा सकता है। रूस-यूक्रेन युद्ध एवं डॉलर में मजबूती से टेक्सटाइल उद्योग में पिछले 6 माह में मांग की कमी का संकट चल रहा है एवं ऐसे में उद्योग पहले ही संकट में है। वर्तमान विद्युत संकट के समय उद्योगों को पावर ग्रिड या अन्य स्त्रोत से पावर खरीदने पर ट्रांसमिशन एवं व्हीलिंग चार्ज वसूल नहीं किया जाना चाहिए।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा