उत्पातियों ने की मौका तस्दीक, दो दिन के रिमांड पर सातों आरोपित, पुलिस कर रही है बरामदगी के प्रयास

 

  भीलवाड़ा विजय गढ़वाल।  आमजन में  वर्चस्व कायम करने को लेकर पिस्टल, तलवार व लाठियों से लैस होकर हरिपुरा चौराहे पर उत्पात मचाने वाले सात लोगों से मांडल पुलिस ने सोमवार को वारदातस्थल की मौका तस्दीक करवाई है। इससे पहले कड़ी सुरक्षा में हथियारबंद पुलिस टीम इन आरोपितों को हरिपुरा चौराहा ले गई। बता दें कि घटना पिछले मंगलवार रात की है। इसके विरोध में बुधवार को क्षेत्र के बाजार बंद रहे थे। 
जांच अधिकारी सीपी विश्नौई ने बीएचएन को बताया कि हरिपुरा निवासी राजू पुत्र भैंरू कुमावत ने इस वारदात की रिपोर्ट दर्ज करवाई थी। राजू ने आरोप लगाया था कि   3 गाडिय़ों से 30-35 लोग आए । ये लोग परिवादी की दुकानों में घुस आये।  जान से मारने के इरादे से राजू कुमावत,नारायण कुमावत, सोहन कुमावत एवं राधेश्याम कुमावत और महिलाओं पर टूट पड़े । बदमाशों ने परिवार वालों के साथ बेरहमी से मारपीट की। दुकान से 22 हजार रुपये  ले गये।  इन बदमाश, बस स्टैंड पर रखी मोहन पुत्र नंदा  माली की केबिन को भी ट्रैक्टर से बांधकर ले गए । हरिपुरा चौराहा पर तोडफ़ोड़ कर कोहराम मचाया है । ये बदमाश गैंग बनाकर आमजन में खौफ  पैदा कर दादागिरी कायम करना चाहते हैं।  इनके पास 3  पिस्टल, छह तलवारे, लोहे के सरिये और लकडिय़ां थी।  बदमाशों ने मंदिर की दुकान भी ढहा दी और किशन पुत्र गोपाल माली और राजू पुत्र हीरा माली की सब्जी के ठेलों को भी तोड़ दिया ।  पुलिस ने इस मामले में रविवार को सालरमाला निवासी सुरेशचंद्र  पुत्र भंवर गुर्जर, राम प्रसाद पुत्र भैरु गुर्जर, दिनेश साहू पुत्र सुखदेव साहू , कन्हैयालाल उर्फ काना पुत्र सोहनलाल गुर्जर,मुकेश पुत्र जमना लाल गुर्जर चेचीखेड़ा रायला, रामजस पुत्र भंवर जाट निवासी जीवलिया, धनराज उर्फ नयनाराम पुत्र रामलाल लौहार निवासी सीडियास मांडल को गिरफ्तार किया था। 
सोमवार को सभी सात आरोपितों को अदालत में पेश किया, जहां से उन्हें दो दिन रिमांड पर भेज दिया गया, ताकि पुलिस वारदात में काम लिये वाहन, लकडिय़ां, हथियार और चोरी की गई केबीन बरामद कर सके। जांच अधिकारी सीपी विश्नौई ने बीएचएन को बताया कि इन बदमाशों को आज कड़ी सुरक्षा में करीब डेढ़ दर्जन हथियारबंद पुलिसकर्मी व अधिकारी हरिपुरा चौराहा ले गये, जहां इन आरोपितों से वारदातस्थल की मौका तस्दीक करवाई गई। 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग