कम्बल चोरी के मामले में चिकित्सक सहित तीन लोग गिरफ्तार

 


 

भरतपुर: इंसान कितना भी पढ़ा लिखा हो और पैसे वाला हो लेकिन यदि वह बेईमान है तो एक दिन वह सलाखों के पीछे पहुंच जाता है. ऐसा ही मामला राजस्थान के भरतपुर शहर में सामने आया है, जब सड़क किनारे कमल बेच रहे लोगों के दुकान से 8 कंबल चोरी कर एक निजी अस्पताल का चिकित्सक अपने अस्पताल के तीन कर्मचारियों के साथ फरार हो रहा था. तभी पीछा कर पुलिस ने चिकित्सक सहित अस्पताल के तीन अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया. यह घटना 11 दिसंबर की देर रात्रि की है, जब मथुरा गेट थाना इलाके में स्थित सारस चौराहे के पास जयपुर-आगरा नेशनल हाईवे के किनारे कंबल बेचने वाले लोगों ने त्रिपाल डालकर दुकान लगा रखी थी.
यह दुकानदार सर्दी के मौसम में सड़क किनारे अपनी दुकान लगाकर कंबल बेचते हैं, लेकिन एक निजी अस्पताल में तैनात चिकित्सक शैलेंद्र शर्मा, अपने अस्पताल के कर्मचारियों दीपक और राहुल एवं एक नाबालिक के साथ मिलकर सड़क किनारे लगी कंबल की दुकान त्रिपाल फाड़कर 8 कंबल चुराकर फरार हो गए थे. सूचना के बाद पुलिस ने नाकाबंदी कराई और पीछा कर कंबल लेकर भाग रहे चिकित्सक और अस्पताल के अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया. अस्पताल के चिकित्सक को अच्छी तनख्वाह मिलती है. उसके बावजूद भी कंबल चोरी करने को लेकर काफी चर्चा हो रही है. फिलहाल चिकित्सक से पूछताछ की जा रही है. मथुरा गेट थाना प्रभारी रामनाथ ने बताया कि देर रात्रि को सूचना मिली थी कि सारे चौराहे के पास सड़क किनारे कंबल बेचने की दुकान से कुछ लोग कंबल चोरी कर फरार हो गए हैं, पुलिस ने नाकाबंदी कर उनका पीछा किया और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया, चोरी करने वालों में एक चिकित्सक भी है.

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार