कम्बल चोरी के मामले में चिकित्सक सहित तीन लोग गिरफ्तार

 


 

भरतपुर: इंसान कितना भी पढ़ा लिखा हो और पैसे वाला हो लेकिन यदि वह बेईमान है तो एक दिन वह सलाखों के पीछे पहुंच जाता है. ऐसा ही मामला राजस्थान के भरतपुर शहर में सामने आया है, जब सड़क किनारे कमल बेच रहे लोगों के दुकान से 8 कंबल चोरी कर एक निजी अस्पताल का चिकित्सक अपने अस्पताल के तीन कर्मचारियों के साथ फरार हो रहा था. तभी पीछा कर पुलिस ने चिकित्सक सहित अस्पताल के तीन अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया. यह घटना 11 दिसंबर की देर रात्रि की है, जब मथुरा गेट थाना इलाके में स्थित सारस चौराहे के पास जयपुर-आगरा नेशनल हाईवे के किनारे कंबल बेचने वाले लोगों ने त्रिपाल डालकर दुकान लगा रखी थी.
यह दुकानदार सर्दी के मौसम में सड़क किनारे अपनी दुकान लगाकर कंबल बेचते हैं, लेकिन एक निजी अस्पताल में तैनात चिकित्सक शैलेंद्र शर्मा, अपने अस्पताल के कर्मचारियों दीपक और राहुल एवं एक नाबालिक के साथ मिलकर सड़क किनारे लगी कंबल की दुकान त्रिपाल फाड़कर 8 कंबल चुराकर फरार हो गए थे. सूचना के बाद पुलिस ने नाकाबंदी कराई और पीछा कर कंबल लेकर भाग रहे चिकित्सक और अस्पताल के अन्य कर्मचारियों को गिरफ्तार कर लिया. अस्पताल के चिकित्सक को अच्छी तनख्वाह मिलती है. उसके बावजूद भी कंबल चोरी करने को लेकर काफी चर्चा हो रही है. फिलहाल चिकित्सक से पूछताछ की जा रही है. मथुरा गेट थाना प्रभारी रामनाथ ने बताया कि देर रात्रि को सूचना मिली थी कि सारे चौराहे के पास सड़क किनारे कंबल बेचने की दुकान से कुछ लोग कंबल चोरी कर फरार हो गए हैं, पुलिस ने नाकाबंदी कर उनका पीछा किया और आरोपियों को गिरफ्तार किया गया, चोरी करने वालों में एक चिकित्सक भी है.

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

66वीं राज्य स्तरीय वॉलीबॉल प्रतियोगिता के सेमीफाइनल मैच कल , राजस्थान का गोल्डमैन व समाजसेवी कन्हैया लाल खटीक आएंगे

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती