गांजा सप्लाई करती थी अंजलि की दोस्त 3 साल पहले हुई थी निधि की गिरफ्तार

 


राजधानी दिल्ली के कंझावला कांड में एक के बाद एक कई बड़े खुलासे हो रहे है।  हादसे में जान गंवाने वाली अंजलि की दोस्त निधि से भी पूछताछ की गई। और अब  निधि के अतीत से जुड़ी एक बात निकलकर सामने आई है। बता दें कि उसे 2020 में अवैध तस्करी के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट के तहत गिरफ्तार किया गया था। इस दौरान उससे 10 किलो गांजा बरामद हुआ था। 

आपको बता दें कि निधि को आगरा कैंट स्टेशन पर 6 दिसंबर 2020 को गिरफ्तार किया गया था।वह तेलंगाना के सिकंदराबाद से गांजा लेकर दिल्ली जा रही थी। निधि दिल्ली के सुल्तानपुरी की ही रहने वाली है। अंजलि की मौत के मामले में निधि के बयानों पर घमासान मचा है। 

पहले आशुतोष को किया था गिरफ्तार 

एक अन्य आरोपी आशुतोष को गिरफ्तार किया था। आशुतोष उन दो संदिग्धों में से एक है, जिसे पुलिस ने सीसीटीवी फुटेज और कॉल डिटेल रिकॉर्ड के माध्यम से जांच के बाद पकड़ा है। पुलिस ने इस मामले में बताया कि वह और अंकुश खन्ना आरोपी को बचाने में कथित तौर पर शामिल थे। अंकित खन्ना आरोपी अमित खन्ना का भाई हैं।

निधि की दोस्ती पर उठे सवाल

इससे पहले पुलिस ने निधि का सीआरपीसी की धारा 164 के तहत बयान दर्ज किया था। जिस रात अंजलि के साथ ये घटना हुई उस वक़्त निधि भी वहीँ मौजूद थी। इस तरह निधि इस केस में एक मुख्य गवाह है। हालांकि निधि ऊपर भी कई लोगों ने सवाल उठाए हैं। मृतिका के परिवार ने निधि पर साजिश रचने लगाया है।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

देवा गुर्जर की गैंगवार में हत्या, विरोध में रोडवेज बस में लगाई आग !

देवा गुर्जर हत्या का मुख्य आरोपी दुर्गा गुर्जर गिरफ्तार 3 साथी भी पकड़े गए

कन्या हत्याकांड- भीलवाड़ा में साली की हत्या कर भागे जीजा ने एमपी में दी जान, मार कर मरुंगा का एफबी पर लगाया था स्टेटस

छोटे भाई की पत्नी के साथ होटल में रंगरलियां मना रहा था पुलिसकर्मी, सिपाही पत्नी ने पकड़ा और कर दी धुनाई

गंगरार कस्बे में कुए में मिली लाश की हत्या का खुलासा, प्रेमी से मिलकर बहिन ने करवाई थी भाई की हत्या,

डांग के हनुमान मंदि‍र के सरजूदास दुष्‍कर्म के आरोप में गि‍रफ्तार, खाये संदि‍ग्‍ध बीज, आईसीयू में भर्ती

प्रोसेस हाउस की बस की टक्कर से ऑटो मोबाइल कंपनी के मैनेजर की मौत