सरकारी स्कूल की भूमि पर अतिक्रमण कर बन रहा अवैध भवन, शिक्षा विभाग व प्रशासन बना है मूकदर्शक!

 


रायपुर (मुकेश शर्मा) सरकारी विद्यालयों को आवंटित की गई भूमि तथा  खेल मैदानों पर व्याप्त अतिक्रमण पर कार्यवाही करने को लेकर शिक्षा विभाग द्वारा अधिकारियों को समय-समय पर सख्त दिशा निर्देश दिए जाते हैं,लेकिन रायपुर में शिक्षा विभाग तथा जिला कलेक्टर को लिखित में शिकायत करने के बाद भी सरकारी स्कूल को आवंटित की गई भूमि पर बन रहे , अवैध भवन निर्माण को रोकने की बजाय  प्रशासन मूकदर्शक बना हुआ है।

ग्राम रायपुर ,पटवार हल्का रायपुर में राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय को भवन निर्माण के लिए खसरा संख्या 4524/1137 क्षेत्रफल 0.22 हेक्टेयर भूमि आवंटित की गई।विद्यालय को आवंटित की गई भूमि पर अवैध अतिक्रमण कर भवन निर्माण किया जा रहा हैं। ग्रामीणों द्वारा अवैध भवन निर्माण को लेकर शिक्षा विभाग के अधिकारियों को सूचित भी किया लेकिन विभाग द्वारा अतिक्रमण रोकने को लेकर कोई कार्यवाही नहीं जा रही हैं। 15 दिसम्बर 2022को जिला स्तरीय जन सुनवाई में जिला कलेक्टर आशीष मोदी को अवैध निर्माण को लेकर लिखा गया लेकिन   जिला कलेक्टर साहब जब तक तथ्यात्मक रिपोर्ट मंगवाएंगे तब तक भवन निर्माण ही पूरा हो जायेगा।

पुलिस विभाग को इस अतिक्रमण के बारे में लिखा गया तो पुलिस का कहना है कि अतिक्रमण को रोकना उनका काम नहीं हैं। अगर विद्यालय प्रशासन द्वारा ही लिखित में शिकायत दर्ज करवाई जाएगी तब कार्यवाही की जायेगी। अब सबसे बड़ा सवाल यह खड़ा हो रहा हैं कि अवैद्य निर्माण को लेकर प्रशासन मौन क्यों है, तथा शिक्षा विभाग लिखित में शिकायत दर्ज क्यों नही कर रहा हैं।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार