जयपुर-कोटा नेशनल हाइवे 52 पर बड़ा सड़क हादसा, तीन लोगों की दर्दनाक मौत, शादी समारोह से लौट रहे थे..

 

जयपुर-कोटा नेशनल हाईवे-52 पर ट्रक ने एक वैन को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में वैन के ड्राइवर समेत 3 लोगों की मौत हो गई, जबकि 2 लोग घायल हैं। वैन सवार एक शादी समारोह से लौट रहे थे। मंगलवार देर रात रास्ते में होटल पर चाय पीने रुके थे। यहां से रवाना होकर हाईवे पर चढ़े ही थे कि जयपुर की तरफ से आए ट्रक ने चपेट में ले लिया। टक्कर इतनी भीषण थी कि वैन के परखच्चे उड़ गए। हादसा टोंक जिले के मेहंदवास इलाके का है।

मंगलवार रात करीब डेढ़ बजे जयपुर-कोटा नेशनल हाईवे-52 पर ट्रक ने एक वैन को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में वैन सवार तीन लोगों की मौत हो गई।

मंगलवार रात करीब डेढ़ बजे जयपुर-कोटा नेशनल हाईवे-52 पर ट्रक ने एक वैन को पीछे से जोरदार टक्कर मार दी। हादसे में वैन सवार तीन लोगों की मौत हो गई।

जानकारी के अनुसार, टोंक निवासी राजेश ग्वाला (50), राजूलाल, दिनेश और प्रहलाद अपने किसी परिचित के यहां शादी में शामिल होने के लिए देवली गए थे। उन्होंने राकेश नायक (36) की वैन किराए पर ली थी। शादी समारोह में शामिल होने के बाद सभी लोग मंगलवार की रात घर लौट रहे थे। इस दौरान रात करीब 1.30 बजे टोल से करीब आधा किलोमीटर पहले कोटा रोड पर घूम कर एक होटल पर चाय पीने रुके थे। चाय पीने के बाद सभी लोग रवाना हुए और हाईवे पर आने के बाद कट से टोंक की तरफ घूमने लगे। इस दौरान पीछे से आए ट्रक ने टक्कर मार दी। ट्रक के टक्कर से वैन के परखच्चे उड़ गए।

टोंक के सआदत हॉस्पिटल में शवों का पोस्टमॉर्टम किया गया। पुलिस ने टक्कर मारने वाले ट्रक को जब्त कर लिया है। साथ ही, ड्राइवर भी पुलिस की गिरफ्त में है।

 मेहंदवास थाना प्रभारी देवेंद्र सिंह ने बताया कि रात करीब 1.30 पुलिस को सूचना मिली थी कि टोल के पास एक ट्रक और वैन की भिड़ंत हो गई है। इस पर पुलिस टीम मौके पर पहुंची और वैन में फंसे घायलों को बाहर निकालकर टोंक के सआदत अस्पताल पहुंचाया, जहां डॉक्टर ने राजेश और राजू लाल को मृत घोषित कर दिया। हादसे में घायल 3 लोगों को जयपुर रेफर किया गया। इसमें घायल वैन ड्राइवर राकेश नायक की रास्ते में मौत हो गई। पुलिस ने तीनों शव का पोस्टमॉर्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस ने ट्रक को जब्त कर लिया है। पुलिस ने ड्राइवर को पकड़ लिया है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार