आठ साल के बेटे के पिता ने फांसी लगाकर दी जान


 भीलवाड़ा विजय/ आकाश गढ़वाल। शहर की आरके कॉलोनी में किराये से रहने वाले झालावाड़ जिले के एक युवक ने शनिवार को फांसी लगाकर खुदकुशी कर ली। इस घटना का पता तब चला जब आठ साल का बेटा स्कूल से घर लौटा। खुदकुशी के कारण अभी सामने नहीं आये हैं। वहीं उसकी पत्नी का रो-रो कर बुरा हाल है। मृतक के परिजनों के आने पर शव का पोस्टमार्टम करवाया जायेगा। 
सुभाषनगर थाने के एचसी मोहम्मद ने बीएचएन को बताया कि झालावाड़ जिले के उमरिया निवासी मुकेश 32 पुत्र रामेश्वर नागर अभी यहां आरके कॉलोनी में पत्नी और आठ साल के बेटे के साथ किराये से रहता था। मुकेश फैक्ट्री में जबकि उसकी पत्नी भी मजदूरी करने जाती है। मुकेश, शुक्रवार रात फैक्ट्री गया था, जो आज सुबह घर लौटा। उसकी पत्नी सुबह मजदूरी पर, जबकि बेटा स्कूल चला गया। इसके बाद मुकेश ने कमरे का दरवाजा अंदर से बंद किया और गले में कपड़े का फंदा डालकर पंखे से लटक गया। इसके चलते उसकी मौत हो गई। 
दोपहर में आठ साल का बेटा स्कूल से घर लौटा तो कमरा अंदर से बंद मिला। उसने पिता को आवाज दी, लेकिन कोई जवाब नहीं मिला। बाद में कमरे में देखने पर मुकेश फंदे से झूलता मिला। आस-पास के लोगों के जरिये पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस मौके पर पहुंची और शव को फंदे से उतरवा कर मोर्चरी भिजवा दिया। मृतक के परिजनों को सूचना दी गई है। उनके आने पर शव का पोस्टमार्टम किया जायेगा। अभी यह पता नहीं चल पाया कि मुकेश ने किन कारणों के चलते खुदकुशी की।  
 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

देवगढ़ से करेड़ा लांबिया स्टेशन व फुलिया कला केकड़ी मार्ग को स्टेट हाईवे में परिवर्तन करने की मांग