फर्जी रसीदें छपवा कर धोबी समाज के लोगो से रूपये ऐंठने का आरोप, केस दर्ज

 

 भीलवाड़ा हलचल। धोबी सेवा संस्थान के अध्यक्ष किशन दशलानिया ने समाज के ही रोशन धोबी के खिलाफ फर्जी रसीदें छपवा कर समाज के लोगों से रूपये ऐंठने का आरोप लगाते हुये सुभाषनगर थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है। 
सुभाषनगर पुलिस ने हलचल को बताया कि धोबी समाज सेवा संस्थान, भीलवाड़ा के अध्यक्ष किशन दशलानिया ने सत्यम कॉम्पलैक्स के पास आरके कॉलोनी में रहने वाले रोशन पुत्र लालाराम धोबी के खिलाफ रिपोर्ट दी है। दशलानिया ने रिपोर्ट में बताया कि धोबी समाज सेवा संस्थान, भीलवाड़ा एक पंजीकृत संस्थान है। उन्हें, हाल ही में समाज के लोगों ने बताया कि रोशन धोबी, समाज  के लोगो के घर-घर जाकर उनसे समाज के नाम पर रूपये लिये जा रहे है और रसीद दी जा रही है । आरोप है कि रोशन, विगत डेढ-दो साल से रूपये की वसूली करता आ रहा है । रोशन, श्री मंशापूर्ण महादेव मंदिर(बसीटा धोबी समाज, भीलवाड़ा) धांधोलाई की पोल (छतरी), भीलवाड़ा के नाम से रसीद बुक छपवा कर, समाज के लोगो से रूपये लेकर रसीदें दे रहा है, जबकि धोबी समाज सेवा संस्थान की रसीद बुक धोबी समाज सेवा संस्थान के नाम से छपी हुई है । रोशन, सोची समझी साजिश के तहत आपराधिक षडयंत्र रचकर स्वयं को सदोष लाभ पहुंचाने व जाति समाज के लोगो को हानि पहुंचाने की गरज से फर्जी व कूटरचित दस्तावेज रसीद बुक छपवा कर समाज के लोगो से  संस्था का नाम लेकर रूपये ऐंठ रहा है और फर्जी रसीदे दे रहा है। यह  रूपये ना तो आरोपित ने हमारी संस्था में जमा कराये है और न ही समाज के किसी विकास कार्य केलिये खर्च किये है ।  पूछने पर भी कोई संतोष प्रद जवाब नही दे रहा है। आरोपित रोशन ने समाज के लोगो को गुमराह कर, धोखाधडी करने व समाज के लोगों से नाजायज राशि ऐंठने की गरज से ये फर्जी रसीदे छपवाई है और रूपये लेकर फर्जी रसीदे दे रहा है। इसपर हमारे को जानकारी होने पर हमारे द्वारा अभियुक्त को ओलम्बा दिया तो परिवादी व समाज के लोगो को झूंठे मुकदमों मे फंसाने व जान से खत्म करने की धमकियां दे रहा है। पुलिस ने इस रिपोर्ट पर जुर्म धारा 406, 420, 467, 468,471, 472 भादस के तहत मामला दर्ज कर लिया। जांच एएसआई साबिर मोहम्मद कर रहे हैं।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

डॉक्टरों ने ऑपरेशन के जरिये कटा हुआ हाथ जोड़ा