कोटड़ी श्याम के दर्शन कर लौट रहे सेनेट्री व्यवसायी पर हमला, हत्या के प्रयास का मामला दर्ज

 

 भीलवाड़ा हलचल। शाहपुरा के नृसिंग बाजार के सेनेट्री व्यवसायी पर  कोटड़ी श्याम के दर्शन कर लौटते समय कुछ लोगों ने हमला कर दिया। इससे वे गंभीर रूप से घायल हो गये। शाहपुरा पुलिस ने इस संबंध में केस दर्ज कर जांच शुुरु कर दी। 
शाहपुरा पुलिस ने हलचल को बताया कि गणपतिया खेड़ा हाल शाहपुरा निवासी दीपेन्द्र सिंह पुत्र रतनसिंह खंगारोत ने रिपोर्ट दी कि नृसिंह बाजार में उनकी कोशल सेनेट्री नाम से दुकान है। 14 मार्च को शाम चार बजे वह अपनी दुकान पर थे, तभी रामपुरा बस्ती निवासी रामस्वरुप तेली आया और  पुरानी बात को लेकर गाली गलोच व धक्का- मुक्की करता हुआ दुकान में प्रवेश किया। चिल्लाने पर पड़ोसी दुकानदार परमजीत चौधरी ने आकर बीच बचाव किया। रामस्वरुप तेली देख लेने की धमकी देकर वहां से चला गया।
इसके बाद लगभग 2.30 बजे कोटडी श्याम के दर्शन कर परिवादी परमजीत चौधरी और यशंवन्त जाट शाहपुरा आ रहे थे, तभी उम्मेेदसागर की पाल पर रामस्वरुप तेली मिल गया, जिसने परिवादी को रोकने का प्रयास किया तो वहां से बचकर निकल गये । इसके बाद दाल फैक्ट्री के पास ओवर टेककर के आडे फिर गये और लाठियों व  लोहे के पाईप से परिवादी दीपेंद्र सिंह के सिर पर मारी जिससे वह, बैहोश हो गया। सिंह के दोस्तो के साथ भी मारपीट की। हमला करने वालों में भानु प्रतापसिंह राठौड़ , संजय सिंह राठौड़़ , जीतुसिंह राठौड़, रामस्वरुप , मनोहर सिंह राठौड़ व 4-5 अन्य लोग शामिल थे। परिवादी का आरोप है कि उसके गले में 2 तोले सोने की चैन व दोस्तों से पैसे लूट कर चले   गये और धमकी दी कि  अगर पुलिस थाने में रिपोर्ट की तो जान से मार डालेंगे। पुलिस ने इस रिपोर्ट पर अपराध  धारा 323-341-308 आईपीसी के तहत दर्ज कर जांच शुुरु कर दी।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना