आरटीई पोर्टल बंद विद्यालयो का ऑनलाईन सत्यापन अटका..

 


भीलवाडा ।  जिला निजी शिक्षण संस्थान के जिलाध्यक्ष अर्जुन देवलिया ने बताया कि शिक्षा विभाग निदेशालय बीकानेर ने पोर्टल टाईमफ्रेम के पहले ही बन्द कर दिया जिससे भीलवाडा जिले में लगभग 40 प्रतिशत विद्यार्थियो के ऑनलाईन भौतिक सत्यापन का कार्य अटक गया है, विभाग ने यदि समय पर पोर्टल वापस नहीं खोला तो हजारो जरूरतमंद विधार्थी निःशुल्क प्रवेश से वंचित रह जायेगें ।
             देवलिया ने बताया शिक्षा विभाग ने पिछले सत्र में भी आरटीई की प्रवेश प्रक्रिया नर्सरी से नहीं की थी, जिससे कुछ अभिभावक कोर्ट में चले गये थे । कोर्ट के निर्देशानुसार विभाग ने अभी दोबारा सत्र 2022-23 के लिए प्रवेश प्रक्रिया जारी कर निजी स्कूलो में नर्सरी से लेकर प्रथम तक विद्यार्थियो को प्रवेश के लिए निर्देशित किया । विभाग ने आरटीई प्रवेश हेतु टाईमफ्रेम जारी किया, शिक्षा विभाग ने लाटरी जारी की । लॉटरी में चयनित विधार्थियों को रिपोर्टिग की, पोर्टल पर दस्तावेज को ऑनलाईन अपलोड किया । निजी स्कूलों को उन दस्तावेजों को वेरीफाई करना था, लेकिन इसी बीच आरटीई पोर्टल में तकनीकी समस्या आने के कारण लगभग जिले में 30 प्रतिशत विद्यालय के विद्यार्थियों का निःशुल्क प्रवेश का भौतिक सत्यापन ऑनलाईन नहीं हो सका, कई विद्यार्थियो के दस्तावेज अपलोड नहीं हो सके, ऐसे में हजारो जरूरतमंद विधार्थी आरटीई में निःशुल्क प्रवेश से वंचित हो गये है।
            देवलिया ने दुबारा पोर्टल खोलने की मांग की जिससे जरूरतमंद विधार्थियो का प्रवेश हो सके।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना