Honeytrap गिरफ्तारी के डर से गैंग ने शिक्षक को लौटा दिये थे वसूले गये 1.10 लाख रुपये, समझौते का लिखवा लिया था स्टांप, स्टांप व कार पुलिस ने की बरामद

 



 भीलवाड़ा हलचल (#BHILWARA NEWS)। सरकारी स्कूल के एक शिक्षक को हनिट्रैप (Honeytrap)कर वसूले गये 1 लाख 10 हजार रुपये हनिट्रैप गैंग ने गिरफ्तारी के डर से न केवल पीडि़त को  लौटा दिये, बल्कि उससे समझौते का स्टांप भी लिखवा लिया था। यह स्टांप गैंग के पांच सदस्यों की गिरफ्तारी के बाद सुभाषनगर पुलिस ने जब्त कर लिया। इसके अलावा पुलिस इस मामले में आरोपित महिला की लग्जरी कार व एक मोबाइल भी बरामद कर चुकी है। इस बीच, पुलिस रिमांड खत्म होने पर दो आरोपितों को आज कोर्ट के आदेश से जेल भिजवा दिया। इस मामले में तीन महिलाओं को पहले ही न्यायिक अभिरक्षा में भेजा जा चुका है।  
मामले की जांच कर रहे सहायक उप निरीक्षक साबिर मोहम्मद  ने हलचल को बताया कि 4 मार्च को सरकारी स्कूल के टीचर भैरुलाल जाट ने एफआईआर दर्ज करवाई थी। उसने बताया था कि एक महिला ने फोन कर उसे खाली प्लॉट देखने के बहाने अपने घर बुलाया। पानी में नशीला पदार्थ पिलाकर उसे नग्न करके उसके अश्लील फोटो खींचे और वीडियो बना लिये और मारपीट कर 1 लाख 10 हजार रुपये वसूल लिये थे। 
जांच अधिकारी का कहना है कि  पुलिस ने जैसे ही मामला दर्ज किया, आरोपितों में खलबली मच गई। पुलिस आरोपितों की तलाश कर रही थी, तभी गिरफ्तारी के डर से हनिट्रैप (
Honeytrap) में शामिल लोगों ने पीडि़त शिक्षक से संपर्क कर उससे वसूली 1 लाख 10 हजार रुपये की राशि पुन: लौटा दी। साथ ही उससे इस मामले में समझौता होने से संबंधित स्टांप भी लिखवा लिया था। 
वहीं दूसरी और पुलिस ने कार्रवाई जारी रखते हुये पिछले दिनों आरोपित तीनों महिलाओं के साथ ही मुकेश सैन व मनोज सोनी को गिरफ्तार कर लिया था। इसके बाद पुलिस ने पीडि़त से लिखवाया समझौते का स्टांप भी आरोपितों की निशानदेही से बरामद कर लिया।  आरोपित एक महिला की लग्जरी अर्टिका कार के साथ ही एक मोबाइल भी बरामद कर लिया था। जांच अधिकारी का कहना है कि इस कार का उपयोग इन लोगों ने शिक्षक से मारपीट कर रुपये वसूलने के बाद उसे घर तक पहुंचाने में किया था। इस दौरान शिक्षक बाइक पर, जबकि आरोपित इस कार से उसके घर तक गये, ताकि वे पुलिस थाने तक नहीं जा पाये। 
तफ्तीश पूरी होने पर तीन महिलाओं को न्यायिक अभिरक्षा में भिजवा दिया, जबकि दो आरोपितों मुकेश व मनोज को रिमांड पर लेकर गहन तफ्तीश की गई।  सोमवार को रिमांड खत्म होने पर मनोज व मुकेश को न्यायालय में पेश किया, जहां से उन्हें जेल भिजवा दिया गया।   

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना