बदनोर में बड़ी वारदात-बैंक केशियर से 16 लाख रुपए रखा बैग छीन भागे कार सवार बदमाश

 


 भीलवाड़ा (हलचल)। भीलवाड़ा में बदमाशों की कारस्तानी कम नहीं हो रही है यह बदमाश आए दिन कहीं ना कहीं कोई न कोई वारदात कर पुलिस व्यवस्था को ठेंगा दिखा रहे है ।ऐसे ही बदमाशों ने आज बदनोर थाना इलाके में बाइक से बैंक जा रहे केशियर से 16लाख रुपए की नगदी रखा बैग लूट लिया यह बदमाश कार से आए और वारदात को अंजाम देने के बाद भाग निकले। लूट की इस वारदात से पुलिस महकमे में खलबली मच गई ।बदमाशों को पकड़ने के लिए पुलिस ने भीलवाड़ा के साथ ही प्रदेश भर में नाकाबंदी करवाई है फिलहाल बदमाशों का कहीं पता नहीं चल पाया है ।बदनोर थाना पुलिस के अनुसार थाना क्षेत्र के भोपालपुरा निवासी धूनाराम भील बदनोर स्थित राजस्थान बडौदा ग्रामीण क्षेत्रीय बैंक कैशियर के पद पर कार्यरत है। धूलाराम गुरुवार को बदनोर शाखा से रवाना होकर आसींद शाखा पहुंचा, जहां से उसने बदनोर शाखा के लिए 1600000 रुपए का केश प्राप्त किया। इसके बाद धूनाराम कैश लेकर आसींद से बदनोर के लिए रवाना हो गया ।कैशियर धूनाराम बदनोर क्षेत्र में नाहर मगरा इलाके में पहुंचा था कि आसींद की ओर से एक कार आई जिसमें 2 लोग सवार थे। इन बदमाशों ने कैशियर धूनाराम से 1600000 रुपए रखा बैग लूट लिया और भीम ब्यावर की ओर भाग निकले। वारदात दोपहर करीब 1:00 बजे हुई। बदनोर पुलिस का कहना है कि 1:30 बजे पुलिस को वारदात की सूचना मिली। इसके बाद पुलिस टीम मौके पर पहुंची और वारदात स्थल का जायजा लेते हुए पीड़ित कैशियर से वारदात की जानकारी ली और भीलवाड़ा जिले के साथ ही प्रदेशभर मे बदमाशों को पकड़ने के लिए नाकाबंदी की। फिलहाल इन बदमाशों का कोई सुराग पुलिस के हाथ नहीं लग पाया है। पुलिस बदमाशों की तलाश जारी रखे हुए।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना