तीन माह में दुगुनी राशि देने का झांसा देकर निवेश करवाये लाखों रुपये हड़पे, दंपती सहित तीन के खिलाफ मामला दर्ज

 

 भीलवाड़ा हलचल। निवेश की गई राशि की तीन माह में दुगुनी राशि देने का झांसा देकर लाखों रुपये हड़पने का मामला सामने आया है। इस धोखाधड़ी को लेकर नया बापूनगर की एक महिला ने श्री बालाजी सहकारी समिति का संचालन करने वाले दंपती सहित तीन जनों पर प्रतापनगर थाने में एफआईआर दर्ज करवाई है। 
प्रतापनगर पुलिस ने बताया कि नया बापूनगर निवासी मंजू पत्नी निर्मल ने रिपोर्ट दी कि उसकी परिचित भावना देवी ने उसे कहा कि वह, उसका पति विकास चौधरी व ससुर जगदीश चौधरी तीनों मिलकर एक श्रीबालाजी सहकारी समिति के नाम से भारत सरकार से रजिस्टर्ड कंपनी चलाते हैं। भावना ने मंजू से कहा कि आप हमारी कंपनी में जितने रुपये निवेश करोगे, तीन माह में दुगुनी राशि मिलेगी । मंजू का कहना है कि भावना, परिचित होने से उक्त कंपनी में रुपए निवेश कर दिये। मिलने वालों से भी उक्त कंपनी में रुपए निवेश करवाये। शुरू शुरू में कंपनी ने लाभांश दिया । इसके बाद तीनों आरोपितों  भावना, विकास, जगदीश ने परिवादिया को विश्वास में लेकर धोखा देने की नियत से कहा कि  मोहल्ले वालों व आपके परिचित को उक्त कंपनी के बारे में समझाएं एवं ज्यादा से ज्यादा निवेश कराओ । इस हम, उनके विश्वास में आ गए । परिवादी मंजू  ने उक्त कंपनी में करीब 500000 रु लगाये, जबकि उसके अन्य परिचित लोगों के भी  करीब 7000000 रुपये निवेश करवाये। मंजू का आरोप है कि इस राशि का एक रुपये का भुगतान भी उक्त कंपनी ने वापस नहीं दिया। मंजू का आरोप है कि उसके दिए रुपए वापस मांगे तो भावना ने उसे कहा कि रुपए आपको लोटा देंगे फिर  जगदीश से संपर्क किया तो संपर्क नहीं हुआ। विकास चौधरी व उसकी पत्नी श्रीमती भावना ने अपने बैंक खाते का अलग-अलग नाम भरकर मंजू व अन्य लोगों को चेक देकर शीघ्र भुगतान का आश्वासन दिया। लेकिन विकास चौधरी व जगदीश चौधरी से संपर्क नहीं होने पर उसने भावना से पूछने पर उसने कहा कि   हमें तो आपको विश्वास में लेकर धोखा देने की नियत से रुपए हड़प करने थे जो कर लिए । अब आप हमारा कुछ भी नहीं बिगाड़ सकते हो। अगर तुम  रूपए के लिए मांग करोगे तो  झूठा मुकदमा दर्ज करवा कर जेल भिजवा दूंगी । पुलिस ने मंजू की रिपोर्ट पर अपराध धारा 406,420 भादस के तहत केस दर्ज कर लिया। जांच एएसआई रामेश्वर लाल कर रहे हैं।  

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना