सिलाई की दुकान में लगी आग, लाखों का नुकसान

 


भीलवाड़ा (हलचल)।  शहर के पुराना भीलवाड़ा स्थित खारे कुएं के पास एक दर्जी की दुकान में शॉर्ट सर्किट देर रात आग लग गई जिससे क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। आग लगने से दुकान में पड़ा सारा सामान जलकर खाक हो गया। बताया गया है कि आग से दुकान में रखी महंगी सिलाई मशीन के साथ ही अन्य कपड़े व सामन जल गये जिनकी कीमत लाखों रुपए बताई गई है। आग की सूचना मिलने पर फायर ब्रिगेड मौके पर पहुंची । दो घंटे की कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया।

जानकारी के अनुसार खारे कुएं के पास प्रह्लाद टेलर के कपड़ा सिलने वाली मातेश्ववरी टेलर नामक दुकान में देर रात अचानक शॉर्ट सर्किट से आग लग जाने से अफरातफरी का माहौल हो गया। टेलर ने बताया कि बीती रात वह अपनी दुकान सही सलामत बंद करके घर के अंदर गया! रात क़ो करीब 2 बजे बंद दुकान में धुआं उठता देखकर पड़ोस में रहने वाले मुख्तियार गोरी ने सूचना दी कि मेरे दुकान के अंदर से धुआं निकल रहा है। आनन-फानन में दुकान का गेट खोलने पर देखा कि दुकान के अंदर लोगों का सिलने वाले कपड़ो में आग लगी हैं i बंद दुकान में धुआं उठता देखकर पड़ोसी बाहर निकले और दमकल विभाग को सूचित किया। उससे पहले खुद ही पड़ोसियों ने पानी गिराकर आग पर काबू पाया। उन्होंने बताया कि स्थानीय लोगों की मदद से सबसे पहले बिजली का कनेक्शन काटा गया। जिसके बाद आग पर काबू पाया गया। आग इतनी तेज थी कि पटिया भी टूट कर नीचे आ गई! आग का प्रभाव बगल वाली दुकान पर भी देखने को मिला!  दुकान मालिक ने आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया है!

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार