सिंधु एकता यात्रा से होगा चेटीचण्ड महापर्व का आगाज

 

भीलवाड़ा/शहर में सिंधी समाज द्वारा आराध्यदेव भगवान झूलेलाल के प्राकट्य दिवस चेटीचण्ड महापर्व के उपलक्ष में आगामी 21 से 24 मार्च तक मनाए जाने वाले चेटीचण्ड महापर्व का आगाज 21 मार्च को स्थानीय बापू नगर सिंधु धाम से निकाली जाने वाली शहीद हेमू कालाणी जन्म शताब्दी विषयक सिंधु एकता यात्रा से होगा।

सिंधी समाज के प्रवक्ता मूलचन्द बहरवानी ने बताया कि सिंधी समुदाय के आराध्यदेव भगवान झूलेलाल के प्राकट्य दिवस के 4 दिवसीय चेटीचण्ड महापर्व के आयोजन की तैयारियां शुरू कर दी गई है।

युवा समाजसेवी हरीश मानवानी ने बताया कि विशाल एकता यात्रा वाहन रैली को भव्यतम बनाने हेतु इसका नेतृत्व मातृशक्ति से करवाने का निर्णय लिया गया है।

वरिष्ठ समाजसेवी एवं शोभायात्रा संयोजक हेमनदास भोजवानी के अनुसार गुरुवार 23 मार्च शाम 4 बजे से नाथद्वारा सराय झूलेलाल मंदिर से शहर के सिंधी समाजजनों की विशाल शोभायात्रा शुरू होगी जो स्टेशन चौराहा, इंद्रा मार्केट, गोल प्याऊ चौराहा, सूचना केंद्र, गांधी बाजार, सिंगल अस्पताल, शहीद हेमू कालाणी सर्किल से होकर सिंधुनगर में प्रवेश करेगी जहाँ पर झूलेलाल मंदिर के दर्शन कर संत कंवरराम चौराहे पर पल्लव-अरदास के साथ विश्राम लेगी। शोभायात्रा का शहर के कई चौराहों पर पुष्प वर्षा से स्वागत किया जाएगा। यहाँ पर व्यापारिक संगठनों द्वारा शीतल पेय व प्रसादी भी की जाएगी। शोभायात्रा में विभिन्न वेशभूषा में स्त्री-पुरुष सम्मिलित रहेंगे।

मेला आयोजन समिति के अध्यक्ष हीरालाल गुरनानी ने बताया कि इस दौरान सामूहिक यज्ञोपवीत व मुंडन संस्कार, बहिराणा साहिब की पूजार्चना, भजन-संगत, लाल साईं के पंजडों के गायन, ध्वजारोहण, युवाओं व महिला मण्डल द्वारा सामूहिक छेज, आम भण्डारा, व नृत्य, पुष्प वर्षा व स्नेह भोज सम्मेलन सहित कई अनुष्ठान होंगे।  

इस बीच शहर के नई शाम की सब्जी मंडी, सिंधुनगर, शास्त्री नगर, बापूनगर, चंद्र शेखर आजाद नगर, पंचवटी सहित सभी झूलेलाल मंदिरों में भी चेटीचण्ड महापर्व को लेकर ध्वजारोहण, बहराणा साहब की स्थापना, सामूहिक छेज  एवं गीत-संगीत सहित विभिन्न धार्मिक व सामाजिक कार्यक्रम आयोजित  किए जाएंगे।

सिंधी सेण्ट्रल पंचायत के अध्यक्ष रमेश सभनानी ने कहा कि चेटीचण्ड महापर्व के उपलक्ष में 21 मार्च को वाहन रैली के दौरान दोपहर 12 बजे तक तथा 23 मार्च  चेटीचण्ड के दिन सिंधी समाज के सम्पूर्ण प्रतिष्ठान पूर्णतया बंद रहेंगे।

पूज्य झूलेलाल नवयुवक सेवा संस्थान के उपाध्यक्ष सुरेश भोजवानी के अनुसार महापर्व के अंतिम दिवस शुक्रवार 24 मार्च को संस्थान के कार्यकर्ताओं का एक दल सुबह 9.15 बजे से पूज्य झूलेलाल साहेब मंदिर नई शाम की सब्जी मंडी से झांतला माता, भादवा माता, मंदसौर के पशुपति नाथ मंदिर व सिंधुमहल की धार्मिक यात्रा पर प्रस्थान करेगा।

 

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

महिला से सामूहिक दुष्कर्म के मामले में एक आरोपित गिरफ्तार

घर-घर में पूजी दियाड़ी, सहाड़ा के शक्तिपीठों पर विशेष पूजा अर्चना