जिंक के जीवन तरंग कार्यक्रम के तहत् मूक-बधिर छात्रों के लिए सड़क सुरक्षा सत्र आयोजित

 

भीलवाड़ा (हलचल) ।  विश्व के सबसे बड़े जिंक, लेड और सिल्वर उत्पादक कंपनी हिंदुस्तान जिंक द्वारा जीवन तरंग कार्यक्रम के तहत अजमेर, भीलवाड़ा और उदयपुर में मूक-बधिर छात्रों के लिए सड़क सुरक्षा पर एक सत्र का आयोजन किया। सत्र में 250 से अधिक छात्रों ने भाग लिया जो मूक-बधिर छात्रों की आवश्यकताओं के अनुरूप बनाया गया था। सत्र का उद्देश्य सड़क सुरक्षा के बारे में जागरूकता और यातायात नियमों और विनियमों के पालन के महत्व को दोहराना था।

हिन्दुस्तान जिंक ने छात्रों को क्रैश हेलमेट पहनने, सीट बेल्ट बांधने, गति सीमा से अधिक नहीं होने और ट्रैफिक लाइट को कभी न तोडऩे के महत्व के बारे में जागरूक किया। सत्र ने सड़क सुरक्षा के बारे में जागरूकता बढ़ाने के लिए इंटरैक्टिव और सूचनात्मक सत्र प्रदान किया।

वेदांता समूह की कंपनी हिंदुस्तान जिंक अपने प्रमुख कार्यक्रम, जीवन तरंग के माध्यम से मूक बधिर लोगों के सीखने के परिणामों को सुविधाजनक बनाने के लिए प्रशिक्षकों को समर्थन और प्रदान करके उनकी क्षमता का निर्माण करने की दिशा में कार्यरत है। भारतीय सांकेतिक भाषा और संबंधित स्वास्थ्य और स्वच्छता विषयों में अच्छी तरह से सीखने को बढ़ावा देने के लिए सत्र आयोजित किए जाते हैं। इसके अतिरिक्त, उनमें कौशल विकास के लिए जीवन कौशल प्रशिक्षण भी प्रदान किया जाता है।

टिप्पणियाँ

समाज की हलचल

घर की छत पर किस दिशा में लगाएं ध्वज, कैसा होना चाहिए इसका रंग, किन बातों का रखें ध्यान?

समुद्र शास्त्र: शंखिनी, पद्मिनी सहित इन 5 प्रकार की होती हैं स्त्रियां, जानिए इनमें से कौन होती है भाग्यशाली

सुवालका कलाल जाति को ओबीसी वर्ग में शामिल करने की मांग

मैत्री भाव जगत में सब जीवों से नित्य रहे- विद्यासागर महाराज

मुंडन संस्कार से पहले आई मौत- बेकाबू बोलेरो की टक्कर से पिता-पुत्र की मौत, पत्नी घायल, भादू में शोक

जहाजपुर थाना प्रभारी के पिता ने 2 लाख रुपये लेकर कहा, आप निश्चित होकर ट्रैक्टर चलाओ, मेरा बेटा आपको परेशान नहीं करेगा, शिकायत पर पिता-पुत्र के खिलाफ एसीबी में केस दर्ज

25 किलो काजू बादाम पिस्ते अंजीर  अखरोट  किशमिश से भगवान भोलेनाथ  का किया श्रृगार